प्रिय पाठक , पिछले कुछ दिनों से "सामूहिक चेतना " नामक शब्द मीडिया में काफी उपयोग में लाया जा रहा है । तो सोचा की आज बात की जाएगी भारतीय सामूहिक चेतना के बारे जो भगवा रंग में डूब चुकी...
The latest Telecom scam of the BJP government revealed and exposed by Congress digs deep into the roots of the corporate and bjp government nexus where in the Narendra Modi government is trying to rob the ex chequer a...
In 2014 Amit Shah and Narendra Modi gave India and Indians a slogan “Congress Mukt Bharat” . Even though it looked highly superficial and laughable , the robust majority that BJP achieved in the general election on the Back...
कहा जाता है कि भारतीय लोकतांत्रिक सियासत की बहुमंजिली इमारत बेहद कमजोर संभावनाओं की नींव पर टिकी है। यानी चुनावी ऊंट कब कौन-सा करवट ले ले, यह आखिर तक पता नहीं चल पाता। हां, कयासबाजी के मामलों में जनता...
जैसा पूर्वानुमान था ठीक वैसे  ही तेवर सुनियोजित तरीके से ,शिवपाल यादव ने दिखा दिए । उन्होंने साफ़ कर दिया की उनके उम्मीदवार जिनके टिकट काटे गए वो छोटे छोटे दलों से कांग्रेस के विरोध में चुनाव लड रहे...
Apart from the address at the joint session of the US congress experts wrote off Modi’s recent US visit as insignificant only to miss the 6 nuclear reactors which a US company will built. Yes and the company’s name...
लोकतंत्र में विचारधारा के भिन्न भिन्न मत हो सकते हैं । इन्ही के  आसपास लोकतंत्र और देश की परम्पराओं का ताना बाना हैं । बुलंदशहर की घटनाओं पर भाजपा के नेता अस्म्वेदनशीलता के साथ जहाँ राजनीती करते नज़र  आये...
I was brought up in a politically aware but increasingly disengaged environment at home in Bengal, with my close relatives having been actively associated mostly with the INC pre or post independence but veering towards the Left or the...
Instead of asudden discontinuation government could have increased Rs. 100 note withdrawal from ATMs & bank counters and continued accepting 500 & 1000 notes as deposits. In three months, it would have increased circulation of Rs. 100 and middle...
विविधता में एकता वाले इस देश में मुसलमानों के साथ किस तरह पेश आया जाए? मुसलमानों से मोहब्बत करें या नफरत? समाज में विद्वेष बढ़ाने वाला इतना घटिया सवाल आखिर पूछने की नौबत क्यों आ रही है? इस तरह...